अगर किसी एक दिन ज़रा भी कुछ नहीं हुआ तो अख़बार वाले क्या छापेंगे ?

, सचेत नागरिक, इंजीनियर, श्रमजीवी

जवाब 2 years पहले लिखा गया • आपको इस में दिलचस्पी हो सकती है

मनो या न मानो लेकिन इतिहास में एक दिन ऐसा हो चूका है... वो दिन था April 11th, 1954 , इस दिन को "इतिहास का सबसे उबाऊ दिन" भी कहा जाता है

इस दिन कुछ भी खास या लिखने लायक नहीं हुआ था, न कोई बैंक लुटा, न कोई कार एक्सीडेंट हुआ , न शेयर बाजार में उथल पुथल हुआ, न कोई सितारा मरा ...

यानि इस दिन खबरें ख़तम हो गयी थी..

तो रिपोर्टर लोगों ने इस दिन क्या दिया? आखिर उन्हें लिखने के ही पैसे मिलते हैं..

तो क्या हुआ ...?

एक 50 पोंड के गिलास की चोरी की खबर उस ज़माने के सबसे बड़े अख़बार के पहले पैन पर छपा... :-D

उस दिन के बाद के अख़बार को देखिये ज़रा

Daily Mail

इसके अलावा April 18th, 1930 के दिन भी ऐसा ही हुआ... तो रेडियो पे एनाउंसर ने सीधे सीधे कह दिया "आज कोई खबर नहीं है"..फिर पूरे टाइम पियानो बजता रहा .

 

2395 बार पढ़ा गया · 342 Upvotes
Upvote 342
जवाब लिखें