आप को किसी मरीज़ ने ऐसा क्या कहा के डॉक्टर होने के नाते हैरान रह गए ?

, लेखक अपना नाम ज़ाहिर नहीं करना चाहते

जवाब 7 महीने पहले लिखा गया • आपको इस में दिलचस्पी हो सकती है

एक आदमी मेरे पास आया और कहने लगा "डॉक्टर साहब, मुझे आप से अकेले में बात करनी है"

हमारे देश में दवा और खाली जगह दोनों कम ही मिलती है ... पर मैं उसे साइड में ले गया

"ये रिपोर्ट एक दिल के डॉक्टर ने एक लड़की को दी है", रिपोर्ट मेरे हाथ में देते हुए वो कहने लगा" मैं उस की बीमारी और भविष्य बारे में जानना चाहता हूँ

रिपोर्ट काफी लम्बी चौड़ी थी और लड़की को एक बिमारी हुई थी जिसका नाम था ‘Eisenmengers Syndrome’. 

इस बीमारी से ग्रस्त लोगों में  दिल में जन्मजात एक छेद होता है जिससे दिल के दायें हिस्से से खून बाएँ हिस्से में रिसने लगता है . अगर बचपन में पता न लगे तो धीरे धीरे खून फेफड़े में पहुचता है जो बहुत नाज़ुक होता है .. .. इस लिए दिल के लेफ्ट और राईट हिस्से में प्रेशर एक चौथाई का फर्क होता है

अगर अगले दो दशको तक ये चलता रहा तो फेफड़े में खून जम जाता है  और धीरे धीरे जाम होने लगता है जिससे सीधे साइड का प्रेशर बढ़ता है.. उस समय तक बच्चा बड़ा हो चुका होता है ... उसके  होंठ नीले पड़ने लगते हैं .. सीढ़ी चढ़ने में दिक्क़त होने लगती है .. या खून की खांसी होने लगती है.. और वो हस्पताल पहुच जाता है

फिर पता चलता है  Eisenmengers Syndrome का. 

"तो तुम्हारा  उससे क्या रिश्ता है .? मैं किसी की रिपोर्ट तुम्हें ऐसे नहीं बता सकता"

"सर, मैं एक मुस्लिम परिवार से हूँ .. और मेरे माता पिता मेरे लिए रिश्ता देख रहे है  .. ये एक लड़की की रिपोर्ट है .. इससे मैं मिला हूँ और इसके घर वाले आये थे रिश्ते के लिए . उसके माँ बाप ने हमें बताया की उसको दिल की कोई बिमारी है .. इसलिए  मैं जानना चाहता था की इसे आगे इसका क्या होगा "

मैंने उसे उस बीमारी में बारे में बताया; गर्भवती होने के चांस न होने के बारे में , आगे चल कर लम्बे इलाज और 'दिल - फेफड़े' के ट्रांसप्लांट ही एक एक इलाज है सब बता दिया

उस लड़की के बारे में सोच कर बड़ा अफ़सोस हुआ जो अपने  होने वाले दूल्हे का इंतजार कर रही होगी.

उसने एक लम्बी सांस ली और मेरा शुक्रिया अदा किआ

‘मैंने अपना मन बना लिया है ’.

‘मुझे दुःख है ’; मैंने कहा

‘सर, मुझे ग़लत मत समझियेगा, पर मैंने उससे शादी करने का मन बना लिया है.. और अब एक यही रुकावट है की माँ बाप को कैसे मनाऊंगा, लेकिन ये भी हो ही जायेगा’.

‘क्या….?? होश में हो न?’

‘जी हाँ सर, मान लीजिये ये बीमारी शादी के बाद हो जाती या मेरी बेटी को ही हो जाये तो ? क्या मैं उसे छोड़ दूंगा ? बिलकुल नहीं . एक बार मैंने मन बना लिया है तो मुझे पीछे नहीं हटना

उसने अपनी घडी देखते हुए कहा "सर अज जुमा है नमाज़ के लिए जाना है .. थोड़ी जल्दी में हूँ", और चला गया

क्या कहेंगे उसे ? पागल? दीवाना ?

---

वैसे  - उसने शादी उसी लड़की से की..और बाद में वो उसके इलाज के लिए अक्सर वक़्त पर आ जाता था और एक लड़की भी गोद ले ली थी उसने. फिर एक दिन उसकी पत्नी अचानक नींद में चल बसी, शायद दिल के दौरे से.

Image result for doctor india

54489 बार पढ़ा गया · 7784 Upvotes
Upvote 7784
जवाब लिखें